Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana: प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का महिलाओं को मिलेगा लाभ

Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana: इस योजना की शुरुआत केंद्र सरकार द्वारा की गई है भारत सरकार द्वारा महिला सशक्तिकरण के लिए विभिन्न प्रयासों में से एक है इस योजना की शुरुआत 1 जनवरी 2017 में की गई थी यह योजना लगभग भारत के सभी राज्य में लागू है इस योजना के तहत गर्भवती तथा स्तनपान कराने वाली महिलाओं को आर्थिक सहायता केंद्र द्वारा आयोजित की जाती है जिसे महिला और बाल विकास मंत्रालय द्वारा चलाया जाता है इस योजना के माध्यम से गर्भधारण करने वाली महिला को ₹6000 रूपए की आर्थिक सहायता के तौर पर दिए जाते हैं।

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का उद्देश्य

Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana: प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का मुख्य उद्देश्य जननी और उसके बच्चे की देखभाल करना है जिसके लिए सरकार उनको ₹6000 की आर्थिक सहायता प्रदान करती है जिसको सरकार 3 चरणों में देती है। गर्भवती महिलाओं को ध्यान में रखकर इस योजना को बनाया गया है प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का उद्देश्य गर्भावस्था के दौरान उनकी पोषण संबंधी जरूरतों को पूरा करने के लिए और स्वास्थ्य को ध्यान में रखकर उन्हें प्रोत्साहित राशि के रूप में आर्थिक सहायता प्रदान करना इसका उद्देश्य है।

ऑनलाइन और ऑफलाइन आवेदन कैसे करें

ऑनलाइन आवेदन: इस योजना में ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आपको इनकी ऑफिशल वेबसाइट पर जाकर अपना पंजीकरण कराना होगा। होम पेज पर आपको लॉगइनफॉर्म दिखाई देगा आपको लॉगइनफर्म में पूछी गई सभी जानकारियों को सही-सही भर देना है और लॉगिन कर लेना है। सभी जानकारी को जांचने के बाद सबमिट बटन पर क्लिक करके आवेदन फॉर्म जमा कर दें।

ऑफलाइन आवेदन: इस योजना में ऑफलाइन आवेदन करने के लिए आपको अपने नजदीकी आंगनवाड़ी तथा स्वास्थ्य केंद्र मैं जाकर पंजीकरण फॉर्म लेकर उसे भरना होगा उस फ़र्म को भरकर, अपने सभी कागजों की फोटो कॉपी लगाकर आपको आंगनवाड़ी तथा स्वास्थ्य केंद्र में उसे जमा कर देना होगा।

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के लिए जरूरी दस्तावेज

Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana: प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का लाभ उठाने के लिए आपको कुछ जरूरी दस्तावेजों की आवश्यकता होगी वह दस्तावेज निम्न है।

  • माता-पिता (अभिभावक) दोनों का आधार कार्ड ( AADHAR CARD )
  • माता-पिता (अभिभावक) दोनों का पहचान पत्र ( Voter Card )
  • किसी एक बैंक खाते की पासबुक ( Bank Passbook )
  • बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र ( Birth certificate )
  • मोबाइल नंबर ( Mobile Number )
  • राशन कार्ड ( Ration Card )

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के लिए पात्रता

Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana: भारत सरकार द्वारा प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना गर्भवती महिला और स्तनपान कराने वाली माताओं और पहली बार गर्भधारण कर रही महिलाओं के लिए है।

  • प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का लाभ केवल वहीं महिलाएं ले सकती हैं जो 1 जनवरी 2017 को या उसके बाद गर्भवती हुई हो।
  • गर्भवती महिला जो इस योजना का लाभ लेना चाहती है उनकी उम्र 19 साल से कम नहीं होनी चाहिए।
  • आवेदक महिला का बैंक खाता होना जरूरी है जो कि आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए।
  • यदि किसी महिला का गर्भपात या बच्चा मृत पैदा होता है तब भी वह महिला इसी योजना का लाभ प्राप्त कर सकेगी।
  • यदि कोई महिला नौकरी कर रही है तो वह महिला इस योजना के लिए पात्र नहीं होगी।

इस योजना के तहत 3 किस्तों में पैसा दिया जाएगा

Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana: प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के तहत गर्भवती महिलाओं को तीन किस्तों में लव राशि डीबीटी के माध्यम से लाभार्थी के बैंक खाते में सीधे भेज दी भेज दी जाती है।

  • पहली किस्त (First Installment) :

इस योजना में 1000 रूपये की पहली किस्त गर्भावस्था के पंजीकरण के समय की दी जाती है।

  • दूसरी किस्त (Second Installment) :

इस योजना में लाभार्थी महिला यदि 6 महीने की गर्भावस्था के बाद कम से कम एक जांच करा लेती है तो 2000 रुपए की राशि उसके खाते में भेज दी जाती है

  • तीसरी किस्त (Third Installment) :

इस योजना में लाभार्थी महिला को तीसरी किस्त जब दी जाती है तब बच्चे का जन्म पंजीकृत हो जाता है और बच्चे को कुछ महत्वपूर्ण पीके लग जाने चाहिए जिसमें ओपीवी, हेपेटाइटीस B आते हैं।

यह भी पढ़ें :- प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना कौन-कौन कर सकता है अप्लाई

Leave a Comment