International Yoga Day 2022 : आखिर 21 जून को ही क्यों मनाया जाता है योग दिवस, जानें

International Yoga Day 2022 : आखिर 21 जून को ही क्यों मनाया जाता है योग दिवस, इस दिन की क्या है खासियत और क्या है योग का महत्व जाने। जिसने योग अपनाया – रोग को हमेशा के लिए दूर भगाया

योग दिवस का उद्देश्य

International Yoga Day 2022 : हर साल 21 जून को पूरे विश्व में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है इस दिन हर कोई योग करता नजर आता है हालांकि हम सभी को योग को अपने जीवन का अहम हिस्सा बना लेना चाहिए इस दिन का उद्देश्य आध्यात्मिक और शारीरिक अभ्यास के लाभों के बारे में जागरूकता फैलाना है।

अग्नीपथ योजना क्या है और क्यों हो रहा है विवाद जाने पूरी जानकारी

योग दिवस की शुरुआत –

International Yoga Day 2022 : आज विश्व भर में लोग स्वस्थ रहने के लिए योगाभ्यास कर रहे हैं योग का महत्व करोना काल में और अधिक बढ़ गया जब कोविड लोकडाउन के दौरान लोग घरों से बाहर नहीं निकल सकते थे और जिम बंद हो गए थे तब लोगों ने मन को शांत रखने और शरीर को स्वस्थ रखने के लिए घर पर ही योग्य अभ्यास किया

International Yoga Day 2022 : लेकिन इस दिन को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मनाने की शुरुआत साल 2015 में हुई जब पहली बार पूरी दुनिया में योग दिवस एक साथ मनाया गया हर साल 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है दुनिया के तमाम देश योग के महत्व को समझते हुए योग दिवस को मनाते हैं योग का अभ्यास शरीर और मस्तिष्क की सेहत के लिए फायदेमंद है।

योग करने के फायदे

International Yoga Day 2022 : योग का जीवन पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है जो करने से शरीर स्वस्थ रहता है यदि कोई अपने जीवन में रोजाना योग को अपनाता है तो उसके शरीर से शारीरिक और मानसिक रोग दूर करते रहते हैं। आज की भागदौड़ के जीवन में टेंशन और तनाव को कम करने के लिए अपने जीवन शैली से उत्पन्न होने वाली समस्याओं को योग के द्वारा दूर किया जा सकता है योग करने से शरीर मजबूत बनता है और योग से शारीरिक और मानसिक ऊर्जा बढ़ती है। हमें अपने जीवन में योग को महत्व देना चाहिए।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2022 की थीम (International Yoga Day 2022 Theme)

International Yoga Day 2022 : योग दिवस को लेकर लोगों में अलग ही उत्साह दिखता है और योग दिवस पर हर साल नई थीम रखी जाती है, जिसे लोग काफी पसंद करते हैं आयुष मंत्रालय की ओर से प्राप्त जानकारी के अनुसार इस साल ‘योगा फॉर ह्यूमैनिटी’ (Yoga For Humanity) थीम चुनी गई है। इसका मतलब है मानवता के लिए योग, इस साल इसी थीम को ध्यान में रखते हुए पूरी दुनिया में योग दिवस मनाया जाएगा।

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का इतिहास (International Yoga Day History)

International Yoga Day 2022 : योग दिवस भारत में ही नहीं। पूरी दुनिया में योग दिवस मनाया जाता है अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाने की शुरुआत साल 2015 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की थी प्रधानमंत्री मोदी ने संयुक्त राष्ट्र संघ की बैठक में योग दिवस मनाने का प्रस्ताव रखा था 11 दिसंबर 2014 को इस बात की घोषणा की गई कि हर साल 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के रुप में मनाया जाए

International Yoga Day 2022 : इसी बात को लेकर संयुक्त राष्ट्र संघ ने अपनी मुहर लगा दी तभी से अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 21 जून को मनाया जाने लगा दरअसल भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 27 सितंबर 2014 को संयुक्त महासभा में दुनिया भर में योग दिवस मनाने का आवन किया था प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने के नेतृत्व के प्रस्ताव को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने स्वीकार कर लिया 11 दिसंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 21 जून से दिवस मनाने का ऐलान किया।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना जाने पूरी जानकारी